Swami Vivekanand ke Anmol Vachan Swami Vivekanand Quotes in Hindi



Swami Vivekanand ke Anmol Vachan Swami Vivekanand Quotes in Hindi


उठो मेरे शेरो, इस भ्रम को मिटा दो कि तुम निर्बल हो,
तुम एक अमर आत्मा हो, स्वच्छंद जीव हो,
धन्य हो, सनातन हो, तुम तत्व  नहीं हो,
ना ही शरीर हो, तत्व तुम्हारा सेवक है तुम तत्व के सेवक नहीं हो.



ब्रह्माण्ड कि सारी शक्तियां पहले से हमारी हैं.
वो हमीं हैं जो अपनी आँखों पर हाँथ रख लेते हैं और फिर रोते हैं कि कितना अन्धकार है!



जिस तरह से विभिन्न स्रोतों से उत्पन्न धाराएँ अपना जल समुद्र में मिला देती हैं,
उसी प्रकार मनुष्य द्वारा चुना हर मार्ग,
चाहे अच्छा हो या बुरा भगवान तक  जाता है.



किसी की निंदा ना करें: अगर आप मदद के लिए हाथ बढ़ा सकते हैं,
तो ज़रुर बढाएं. अगर नहीं बढ़ा सकते,
तो अपने हाथ जोड़िये, अपने भाइयों को आशीर्वाद दीजिये,
उन्हें उनके मार्ग पे जाने दीजिये.



कभी मत सोचिये कि आत्मा के लिए कुछ असंभव है.
ऐसा सोचना सबसे बड़ा विधर्म है. अगर कोई पाप है, तो वो यही है;
ये कहना कि तुम निर्बल  हो या अन्य निर्बल हैं.