Latest Haryanvi Style Jokes Haryanvi Jokes in Hindi, Haryanvi Chutkule

j

Latest Haryanvi Style Jokes Haryanvi Jokes in Hindi, Haryanvi Chutkule


एक बुड्ढा एक बुड्ढी को घूर रहा था तो बुड्ढी उसे गाली देने लगी।
मैने देखा तो पूछा, “अरा कै हो गया ताऊ?’
बुड्ढा बोला, “अरा कुछ नहीं बेटा, पुराना केलेंडर से, हवा में फड़फड़ा रै से।”



शहर में…
बेटा: पापा आज बहुत गर्मी है।
पापा: ओ मेरे बेटे को गर्मी लग रही है। हम आज ही A.C. लगवाएँगे।

इधर हरियाणा में…
बेटा: बापू मैंने घनी गर्मी लग्गे से।
बापू: चल तुझे आज गंजा करवा देता हूँ।




रमलू के पड़ौस में एक नई बहू आई थी । रमलू हुक्के की चिलम भरण का ओडा ले कै रोज उस घर में चला जाया करता । कुछ दिन पाच्छै बहू आपणै पीहर चली गई, रमलू नै इस बात का बेरा ना था ।

रमलू चिलम ले कै पहुंच ग्या अर इंघे-उंघे नै देख कै बुढ़िया तैं बोल्या - ताई, आग सै ? ताई बोली - बेटा, आग तै कल बारह आळी गाडी में चली गई !



भाई, रमलू घणा ऐं बोद्दा, मरियल सा हो-ग्या । उसतैं गाम का एक ताऊ कहण लाग्या - रै रमलू कुछ घी-वी खा लिया कर, तेरा गात कुछ ठीक सा दीखण लाग ज्यागा ।


न्यूं सुण कै रमलू बोल्या - ताऊ, मैं घी नै ऐं तै तोड़ राख्या सूं !

रमलू की या बात सुण कै ताऊ बोल्या - भाई, न्यूं क्यूकर बणी ?

रमलू बोल्या - ताऊ, मैं मंडी में घी के पीपे ढोया करूं !!