haryanvi Jokes funny haryanvi jokes haryanvi Jokes in hindi




Haryanvi Jokes Funny Haryanvi jokes Haryanvi Jokes in Hindi


बस म हरियाणवी छोरा दिल्ली आली से, “मैडम मड़ी सी परे न सरकिए।”
लड़की: थोड़ा तमीज से बोलिए।
हरियाणवी: र तू कृप्या करके परे सी न मरले।



गर्मियों की छुट्टियाँ में,
पंजाबी: चलो कश्मीर चलते हैं।
ब्राह्मण: चलो केदारनाथ चलते हैं।
और जाट: चाल रे मामा के चालांगे।



सब कहते हैं कि हरियाणवी लोग उलटे जवाब देते हैं मगर ऐसा नहीं है बल्कि लोग सवाल उलटे करते हैं। जैसे एक ताऊ बाल कटवाने गया तो, हज़्ज़ाम ने पूछा, “ताऊ बाल छोटे करने है के?” ताऊ: तू बड़े कर सके है तो बड़े कर दे।



एक बुड्ढा एक बुड्ढी को घूर रहा था तो बुड्ढी उसे गाली देने लगी।
मैने देखा तो पूछा, “अरा कै हो गया ताऊ?’
बुड्ढा बोला, “अरा कुछ नहीं बेटा, पुराना केलेंडर से, हवा में फड़फड़ा रै से।”



शहर में…
बेटा: पापा आज बहुत गर्मी है।
पापा: ओ मेरे बेटे को गर्मी लग रही है। हम आज ही A.C. लगवाएँगे।

इधर हरियाणा में…
बेटा: बापू मैंने घनी गर्मी लग्गे से।
बापू: चल तुझे आज गंजा करवा देता हूँ।हरियाणा रोडवेज प्रशासन को शिकायत मिली कि हरियाणा रोडवेज के कंडक्टर बहुत बदतमीजी से बोलते हैं। उन्होने फौरन आदेश दिया कि सभी कंडक्टर कुछ भी कहने से पहले “कृपया” शब्द का इस्तेमाल करेंगे। दूसरे दिन एक बस में कई आदमी चढ़ गए और दरवाजे पर लटक लिये। थोड़ी देर बाद कंडक्टर आया और बोला,
“कृपा करकै आगे-नै मर ल्यो।”