haryanavi chutkule jatt status for whatsapp in hindi



haryanavi chutkule jatt status for whatsapp in hindi


एक बै चार-पांच साल का सूंडू स्कूल म्हां तै रोता होया घरां आया । उसका बाबू बोल्या - रै सून्डू, के होया ?

सुन्डू बोल्या - बाबू, तू तड़कैहें मन्नै न्हुवा (नहला) कै ना भेजता । मेरी मैडम न्यूं कह सै अक तुम नहा कै नहीं आते स्कूल में ।

इतना सुण कै उसका बाबू बोल्या - रै या थारी मैडम तुमनै पढ़ाया करै अक सूंघया करै ? !!



एक बै एक गंजा मास्टर क्लास में आ-ग्या । ज्यूकर-ए वो ब्लैकबोर्ड कान्हीं मुंह कर-कै लिक्खण लागै, बाळक हांसण लाग-ज्यां ! दो-तीन बै न्यूं-ऐं होया ।

मास्टर नै एक छोरा बुलाया - क्यूं रै, तुम क्यूं हाँसो सो ?

छोरा - गुरू जी, बता दूंगा तै आप मारोगे ।

मास्टर - ना, नहीं मारूं, बता !

छोरा - जी, जब आप ब्लैकबोर्ड कान्हीं मुंह करो सो, तै आपकी टाँट पै पंखा चालता दीखै सै !!



एक ब एक एस.पी , डी.सी. अर मास्टर धीरे रेल म जाँ थे ! बात बाता एस.पी अर डी.सी में अपनी पावर की बड़ाई करण की होड शुरू होगी ! कई वार होगी जब मास्टर धीरे त कचोद टाइप त बोल्ये , मास्टर आप भी बता दयो किमे आपने बारे में  !

धीरे मास्टर बोल्या , रहण दयो जी , के कहू ईब  !

एस.पी , डी.सी माने कोन्या अर् फेर स्वाद लेन के मारे बोल्ये , ना जी किम्मे त बताओ न  !

धीरे मास्टर बोल्या , ना मानते त ल्यो सुन ल्यो ! हाम सारी दोफारी त घाम म मुर्गा बनाई राखां , फेर पाछे प माराँ डंडे अर् फेर वे बालक एस.पी , डी.सी बन ज्या स !



एक बै एक स्कूल में इंस्पेक्शन आळे आ-ग्ये । एक क्लास में जा-कै वे बाळकां तैं सवाल बूझण लाग्गे । कुछ सवाल बूझ कै उन्हैं एक जानवर का फोटू दिखाया (जिसमें सिर्फ उसके पांव दीखैं थे) अर ढीलू तैं बोल्ले - इसकी टांग देख कै बता इसका नाम के सै ?

ढीलू कई हाण देख कै बोल्या - जी, मन्नै तै ना बेरा ।

वे इंस्पैक्टर बोल्ले - अरै, तन्नै इतना बी ना बेरा ? बता तेरा नाम के सै ?

ढीलू बोल्या - ले, मेरी टांग देख-कै बता !!