independence day hindi suvichar independence day poems in hindi



independence day hindi suvichar independence day poems in hindi


किसी भी कीमत पर बल का प्रयोग ना करना काल्पनिक आदर्श है

और  नया आन्दोलन जो देश में शुरू हुआ है

और जिसके आरम्भ की हम चेतावनी दे चुके हैं

वो गुरु गोबिंद सिंह और शिवाजी, कमाल पाशा और

राजा खान , वाशिंगटन और गैरीबाल्डी , लाफायेतटे और लेनिन के आदर्शों से प्रेरित है।



ये हमारा कर्तव्य है कि हम अपनी स्वतंत्रता का मोल अपने खून से चुकाएं.

हमें अपने बलिदान और परिश्रम से जो आज़ादी मिले,

हमारे अन्दर उसकी रक्षा करने की ताकत होनी चाहिए.




आज हमारे अन्दर बस एक ही इच्छा होनी चाहिए,

मरने की इच्छा ताकि भारत जी सके!

एक शहीद की मौत मरने की इच्छा ताकि स्वतंत्रता का मार्ग शहीदों के खून से प्रशश्त हो सके



एक सैनिक के रूप में आपको हमेशा तीन आदर्शों को संजोना और उन पर जीना होगा :

सच्चाई , कर्तव्य और बलिदान.जो सिपाही हमेशा अपने देश के प्रति वफादार रहता है,

जो हमेशा अपना जीवन बलिदान करने को तैयार रहता है,

वो अजेय है. अगर तुम भी अजेय बनना चाहते हो तो इन तीन आदर्शों को अपने ह्रदय में समाहित कर लो.